ALL Crime Politics Social Education Health
WHO ने कोरोना वायरस को घोषित किया महामारी, भारत ने विदेशियों के वीजा किए सस्पेंड
March 12, 2020 • M Rizwan

WHO ने कोरोना वायरस को घोषित किया महामारी, भारत ने विदेशियों के वीजा किए सस्पेंड

WHO ने कोरोना वायरस को घोषित किया महामारी, भारत ने विदेशियों के वीजा किए सस्पें

 

Mar 12, 2020 m rizwan

जेनेवा: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है. कोरोना को महामारी घोषित करते हुए WHO ने कहा कि इस वायरस से अब तक विश्व भर में 4300 से ज्यादा लोगों की मौ*त हो चुकी है, इसलिए इसे महामारी कहा जा सकता है.

बुधवार को WHO अध्यक्ष टेड्रॉस गेब्रेयेसस ने जेनेवा में पत्रकारों से कहा, ‘‘Covid-19 अब महामारी कहा जा सकता है.” उनके मुताबिक, हमने कोरोना की ऐसी महामारी कभी नहीं देखी है. बता दें, किसी भी बीमारी को महामारी तब घोषित किया जाता है जब वह एक से ज्यादा देशों में फैल जाए और लोगों के सामने जीवन का संकट पैदा कर दे.

ऐसे में भारत ने कोरोना वायरस के मद्देनजर विदेश से आने वाले लोगों का वीजा 15 अप्रैल तक के लिए सस्पेंड कर दिया है. इस प्रतिबंध से राजनायिकों, अधिकारियों, सयुंक्त राष्ट्र संघ और अंतरराष्ट्रीय संगठनों के कर्मचारियों को छूट मिलेगी. यह प्रतिबंध 13 मार्च 2020 से ही लागू हो जाएगा.

 

सरकार ने यह भी कहा है भारतीय नागरिकों को कठोरतापूर्वक यह सलाह दी जाती है कि गैरजरूरी विदेशी यात्राएं न करें. अगर वे कहीं से भी यात्रा करके वापस लौटते हैं तो उन्हें कम से कम 14 दिन तक लोगों से अलग रखा जा सकता है. सरकार की ओर से कहा गया है कि जो भी विदेशी शख्स भारत आने की इच्छा रखता है, वह पहले भारतीय दूतावास से संपर्क करे.

सभी भारतीय नागरिक और विदेशी नागरिकों को हिदायत दी जाती है कि अगर बेहद जरूरी न हो तो अनावश्यक यात्रा न करें. अगर वे भारत आते हैं तो उन्हें 14 दिन तक लोगों से अलग निगरानी में रखा जा सकता है. इसके साथ ही चीन, इटली, ईरान, कोरिया, फ्रांस, स्पेन और जर्मनी में जो भी भारतीय या विदेशी यात्री 15 फरवरी तक रहे हों, उन्हें भारत आने पर कम से कम 14 दिन के लिए अलग मेडिकल निगरानी में रखा जाएगा.

भारत सरकार की ओर से जारी आदेश के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय सीमाओं के तहत होने वाली आवाजाही पर भी तय चेक पोस्ट पर नजर रखी जाएगी. हर चेक पोस्ट पर स्क्रीनिंग की जाएगी. इसे अलग से गृह मंत्रालय की ओर से नोटिफाई किया जाएगा.