ALL Crime Politics Social Education Health
स्पा में हो रहा है शोषण, नॉर्थ ईस्ट इंडिया की लड़कियां है सबसे ज्यादा ग्रसित
February 24, 2020 • Montoo Raja

स्पा की आड़ में हो रहा है लड़कियों का शोषण, अधिकतर नॉर्थ ईस्ट इंडिया की लड़कियां हैं चपेट में, देशभर में जितने भी स्पा है उन सभी के अंदर कार्यरत नॉर्थ ईस्ट इंडिया की लड़कियां व महिलाएं सबसे अधिक हैं। जिनको सबसे ज्यादा शोषण का शिकार होना पड़ता है।

पूरे भारतवर्ष में पाया गया है की स्पा के नाम पर महिलाओं व लड़कियों को उत्पीड़न झेलना पड़ता है, ज्यादातर स्पा कंपनीज फर्जी पाई गई है वह महिलाओं और लड़कियों से जिस्मफरोशी का धंधा भी करवाती हैं। हाल ही में स्वाति महिवाल ने कई दिल्ली के स्पा में रेट डाल पर्दाफाश किया था।

हाल ही में हेल्पिंग हैंड संस्था जो कि देश के अंदर एक बड़े स्तर पर नॉर्थ ईस्ट भारतीयों की सहायता कर रही है चाहे वह कोई भी स्थान हो साक्षरता, चिकित्सा, लीगल एड व मार्गदर्शन आदि कर रही हैं।

वही देश भर में जितने भी इस पाए हैं वहां अधिकतर नॉर्थ ईस्ट इंडिया की लड़कियां व महिलाएं पाई जाती हैं। जिसके चलते हेल्पिंग हैंड के कार्यकर्ताओं ने स्पा में काम कर रही लड़कियों व महिलाओं की जमीनी सच्चाई को जानने के लिए कई राज्यों के स्पा में पड़ताल करी। और जमीनी सच्चाई हमसे साझा की जहां पर पता चला की दिल्ली नोएडा गुरुग्राम गोवा आदि स्थानों पर जो स्पा है वहां काम कर रही नॉर्थ ईस्ट इंडिया की महिलाएं व लड़कियों को वेतन तक नहीं मिल पाता है, ऐसा अधिकतर 25% कार्य कर रही महिलाओं के साथ हैं। 

तनख्वाह के नाम पर ग्राहकों द्वारा टिप्स या कुछ परसेंटेज ही दी जाती है। या फिर उनसे कहा जाता है की वह भी ट्रेनिंग पीरियड पर है इसके कारण वह वेतन प्राप्त नहीं कर सकती।
हेल्पिंग हैंड संस्था के कार्यकर्ता जब स्पा के अंदर पड़ताल करने पहुंचे तो पाया स्पा के अंदर छोटे गंदे कम रोशनी वाले कमरे जिसमें मसाज लेने आए व्यक्ति मसाज देने वाली कार्यकर्ता से कई बार अभद्रता वा मॉलेस्टेशन भी कर देते हैं जिसके चलते लड़कियां व महिलाएं ऐसे वक्त पर कैसे और किस से शिकायत करें उन्हें मालूम नहीं है।

वही जो श्रम कानून आदि चीजें हैं इन सब कानूनी हक के बारे में नार्थ ईस्ट इंडिया की महिलाएं और लड़कियां नहीं जान पाती हैं जिसके कारण उनका शोषण अलग-अलग तरह से किया जाता है। हेल्पिंग हैंड संस्था के कार्यकर्ताओं ने कहा की महिलाओं की ऐसे संस्थानों में ऐसी हालत है जैसे जुरासिक पार्क में एक बकरी की होती है। स्पा के बारे में और कार्यशैली के बारे में हेल्पिंग हैंड के कार्यकर्ताओं ने o2 कंपनी के नॉर्थ हेड से बात की जिसमें उन्होंने बताया कि कुछ चीजों को अगर ध्यान में रखा जाए तो भोली भाली लड़कियां व महिलाएं उत्पीड़न से बच सकती हैं।

O2 कंपनी के नॉर्थ हेड ने बताया कि 3500 से अधिक महिलाएं हमारी कंपनी के साथ नोएडा गुड़गांव फाइव स्टार होटल्स आदि जगहों पर कार्यरत हैं। O2 कंपनी के नॉर्थ हेड ने बताया कि कुछ चीजों को ध्यान में अगर रखा जाए तो इस सेक्टर में शोषण से बचा जा सकता है।

• कंपनी की वेबसाइट को अच्छी तरह से पढ़ें।
• कंपनी की वेबसाइट पर जो फोन नंबर अंकित है उस पर कॉल कर पूर्ण जानकारी लें।
• कंपनी की एचआर पॉलिसी व कंपनी द्वारा दी जाने वाली सैलरी अकाउंट या चेक के द्वारा ही प्राप्त करें।
• फ्रीलांसर बनकर किसी स्पा में काम ना करें यह घातक हो सकता है।
• जब भी किसी स्पा आदि कंपनी में काम करें तो पहले ऑफर लेटर ले उसके बाद काम करें।