ALL Crime Politics Social Education Health
सिंघम से हिटलर बने इंस्पेक्टर मनोज रघुवंशी तो धरने पर बैठे कानपुर के पत्रकार*
April 2, 2020 • आशू यादव

*आशू यादव की खास रिपोर्ट SUB BEAURO CHIEF कानपुर*✒️
➖➖➖➖➖

*सिंघम से हिटलर बने इंस्पेक्टर मनोज रघुवंशी तो धरने पर बैठे कानपुर के पत्रकार*

*सिंघम से हिटलर बने इंस्पेक्टर *मनोज रघुवंशी*
 *जहां एक तरफ पूरे देश में लॉकडाउन जारी है प्रशासनिक अमले के अधिकारी पुलिस, डॉक्टर व पत्रकार अपने कार्य के लिए स्वतंत्र हैं लेकिन सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए अपना काम करें। शासन द्वारा निर्देश है पत्रकारों को कवरेज की अनुमति है उन्हें अपना काम करने दें अथवा उनके कार्य में बाधा न डालें बावजूद इसके शासन प्रशासन के आदेशों को दरकिनार करते हुए इंस्पेक्टर ने अपने अधिकारों का दुरुपयोग करते हुए न्यूज़ चैनल की ऑफिसियल गाड़ी का चालान कर दिया।*

*बात अगर हम प्रशासनिक अमले की करें तो प्रशासनिक अधिकारी के साथ भी करीब 3 से 4 लोग कार में चलते हैं तो उनका चालान क्यों नहीं होता है। जबकि पुलिस की जीप में भी तीन से चार लोगों से ज्यादा ही पुलिसकर्मी बैठे होते हैं क्या वह सोशल डिस्टेंस फॉलो करते हैं..?*
*पत्रकारों के प्रति पुलिस की घृणित मानसिकता कहीं ना कहीं पत्रकारों के अधिकारों का हनन करने का प्रयास दिखाई दे रहा है। इसके बाद से ही कानपुर के पत्रकारों में आक्रोश उत्पन्न हो गया है।*

*इंस्पेक्टर के खिलाफ  होगी कार्रवाई : आईजी कानपुर*
*इस संबंध में आईजी रेंज मोहित अग्रवाल जी से सम्मानित समाचार पत्रों व न्यूज़ चैनलों के संवाददाताओं से बात हुई है। आईजी मोहित अग्रवाल ने भरोसा दिलाया है कि इस विषम परिस्थिति में रात दिन सड़क पर संघर्ष करने वाले पत्रकार के साथ बदसलूकी करने वाले नजीराबाद के प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार रघुवंशी के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी*।
 
*एसपी पूर्वी ने भी दिया आश्वासन*
*लॉक डाउन के दौरान पत्रकारों के* *साथ हो रही बदसलूकी से नाराज होकर कानपुर के पत्रकारों ने कानपुर प्रेस क्लब के बाहर शिक्षक पार्क इकट्ठा हो गए और कवरेज ना करने की बात कहकर अपने माइक और कैमरा पार्क में ही रख दिए। ,*
*एसएसपी/डीआईजी अनंत देव तिवारी ने मौके पर एसपी पूर्वी को भेज कर  आश्वासन दिलवाया है कि भविष्य में इस प्रकार का कोई भी मामला नहीं होगा साथ ही साथ ही कंट्रोल रूम से जिले के सभी थानों को ये सूचना भी दी गयी है ।*
*पत्रकारों ने बनाया एक टैग* *#IHateManojRaghuvanshi*
*कानपुर के नजीराबाद थाने के प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार रघुवंशी का कानपुर के सभी पत्रकार विरोध कर रहे हैं साथ ही सभी पत्रकारों ने हैस टैग बनाया है, जिसमें स्पेक्टर मनोज कुमार* *रघुवंशी का नाम लिखा साथ ही आई हेट मनोज रघुवंशी लिखा है। जिससे साफ जाहिर हो रहा है* *कानपुर के पत्रकारों में इंस्पेक्टर मनोज कुमार रघुवंशी के खिलाफ आक्रोष भरा हुआ है।*
 
 
*सिंघम से हिटलर बने मनोज कुमार रघुवंशी*
*कुछ पत्रकारों ने तो यह तक कह डाला यह वही मनोज कुमार रघुवंशी है जो कानपुर हिंसा के दौरान सबसे ज्यादा फॉर्म में थे और हिंसा फैला रहे* *प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कार्यवाही में सबसे आगे दिखाई *पड़ रहे थे लेकिन जब मीडिया प्रशासन का पुरजोर समर्थन कर *रही है ऐसे में इंस्पेक्टर मनोज कुमार रघुवंशी का पत्रकारों के प्रति उदासीन रवैया कहीं ना कहीं यह साबित कर रहा है कि एक *सिंघम हिटलर बन चुका है।*
*वेबसाइट वर्ल्डोमीटर*


*उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के नजीराबाद थाना के प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार रघुवंशी ने एक पत्रकार के साथ बदसलूकी करते हुए न्यूज़ चैनल की ऑफिशियल गाड़ी का चालान* *कर दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार इंस्पेक्टर मनोज कुमार रघुवंशी का कहना है पत्रकार सोशल डिस्टेंस फॉलो नहीं कर रहे थे व आलाधिकारियों पर टिपण्णी करने के साथ ही गाड़ी में 3 लोग बैठे थे, इंस्पेक्टर मनोज कुमार रघुवंशी ने कवरेज कर अपने घर लौट रहे एक निजी चैनल के पत्रकार को सरेराह रोककर अभद्रता की और विरोध करने पर जबरन गाड़ी का चलान काट दिया। आरोप है कि थानेदार ने फर्जी मुकदमा लगा कर जेल भेजने की धमकी भी दी। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल ये उठता है रिपोर्टर, कैमरामैन के साथ ड्राइवर क्या नहीं हो सकता*


*नजीराबाद थानाध्यक्ष मनोज कुमार रघुवंशी की दंबगई आई सामने.वरिष्ठ पत्रकार से अभ्रता कर काटा चलान मीडिया जगत मे आक्रोश का माहौल*


*उत्तरप्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ जी द्वारा पत्रकारों से अच्छे से वर्ताव करने को लेकर बराबर मुहिम चला रहे है लेकिन कुछ पुलिस कर्मी इसका उलघंन खुलेआम कर रहे है ताजा मामला कानपुर नजीराबाद का है जहाँ थानाध्यक्ष ने एक वरिष्ठ पत्रकार से अभ्रता की और उनका जबरन चलान काट दिया.वही पत्रकार को धमकी भी दी की तुम्हारे ऊपर फर्जी मुकदमा लगा कर जेल भेज देगें तब अकल आएगीं वर्दी का इतना गुरूर दिखा रहे नजीराबाद थानाध्यक्ष मनोज कुमार रघुवंशी*

*आखिर क्यो करते है  पत्रकारो से अभ्रता आईए जानते है*

*थानाध्यक्ष मनोज कुमार रघुवंशी का कहना है मै आइजी टीम का हुँ मेरा कोई कुछ बिगाड़ नही पाएगा .इसी लिए अभी तक महोदय हर मामले मे बचते दिखाई दे रहे है लेकिन आज कानपुर दक्षिण प्रेस क्लब ने इसका विरोध करते हुए व कार्य बहिष्कार  किया  इस सबन्ध में एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल मौके पर पहुंच कर बातचीत कर रहे हैं मीडिया कर्मियों से लेकिन मीडिया कर्मी कर रहे नजीराबाद थानाध्यक्ष मनोज कुमार रघुवंशी के खिलाफ कार्यवाही की मांग*