शाहीन बाग में चली गोली के बाद, पक रही है दिल्ली में राजनीतिक खिचड़ी।
February 5, 2020 • मोंटू राजा

सीएए और एनआरसी के विरोध में देश के अनेक राज्यों में हो रहे विरोध प्रदर्शन के चलते दिल्ली के शाहीन बाग और जामिया नगर में सीएए और एनआरसी को प्रदर्शन में गोली चलाई गई जिसमें साईं बाग में चलाई गई गोली के आरोपी कपिल गुर्जर को पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया था।

गोली चलाने के बाद कपिल गुर्जर ने यह भी बोला था कि देश के अंदर सिर्फ हिंदुओं की ही चलेगी किसी और की नहीं जिस बयान में एक सांप्रदायिक भावना देखने को मिली थी।

पुलिस हिरासत में रहने के बाद पुलिस ने आरोपी से पूछताछ कर बताया की गोली चलाने वाला शख्स कपिल गुर्जर आम आदमी पार्टी से ताल्लुक रखता है। हमें पर कई फोटोस और वीडियो वह जनसभा के अंतर्गत देखे गए कपिल मिश्रा को आम आदमी पार्टी के नेताओं के साथ देखा गया है जिनके तथ्य पर पुलिस ने यह बताया है कि यह युवक आम आदमी पार्टी के संपर्क में है।

जिसके बाद आम आदमी पार्टी ने अपना पल्ला झाड़ते हुए यह कहा है कि कपिल मिश्रा का आम आदमी पार्टी से किसी भी तरह का कोई लेना देना नहीं है वही गोली चलाने वाले कपिल मिश्रा के भाई और पिता का भी यही कहना है कि वह यह उनके परिवार का कोई भी सदस्य आम आदमी पार्टी का कोई सदस्य नहीं है ना कभी सदस्यता ली थी।

आम आदमी पार्टी के नेताओं ने केस को हैंडल कर रहे डीसीपी के ऊपर यह आरोप लगाया है कि डीसीपी के ऊपर गृह मंत्रालय का दबाव है जिसके कारण डीसीपी ने अपनी रिपोर्ट में यह लिखा है वही कपिल मिश्रा के भाई और पिता का अलग ही बयान है।

देखने को यह मिल रहा है कि दिल्ली दिल्ली में प्रदर्शन स्थलों को अब राजनीति के खिचड़ी भंडार की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है।