ALL Crime Politics Social Education Health
सीएए के कानून में जलती दिल्ली, 13 की मौत 180 से ज्यादा जख्मी।
February 26, 2020 • मोंटू राजा

देशभर में सीए के कानून के विरोध में लाखों करोड़ों की संख्या में कि लोग सड़कों पर उतरे हैं और विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, वही सीए के समर्थन में भी सैकड़ों लोगों को सड़कों पर देखा गया।

कई महीनों से दिल्ली की सड़कों पर हो रहे अलग-अलग जगहों पर विरोध प्रदर्शन मैं सैकड़ों लाखों की तादात में जनता को देखा गया शुरुआती दिनों में भी देखने को मिला है कुछ लोग सीए के बिल के समर्थन में उतरे थे।

वही दिल्ली के उत्तर पूर्वी क्षेत्र जाफराबाद में 42 43 दिनों से सीए के विरोध में जनसैलाब सड़कों पर उमड़ा हुआ था जिसके बाद बीजेपी के नेता कपिल मिश्रा के द्वारा दिल्ली में हो रहे प्रदर्शनकारियों को चेतावनी दी गई थी कि अगर 3 दिन के अंदर यह प्रदर्शन नहीं हटाते हैं तो हम सीए के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे हैं और विरोधियों को हम खुद हटा देंगे। 

बीजेपी के नेता कपिल मिश्रा ने पहले भी विवादित बयान दिए हैं जिसके बाद शाहीन बाग वह जामिया नगर में भी प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाई गई थी, वही चीज कपिल मिश्रा ने दिल्ली के उत्तर पूर्वी क्षेत्र भजनपुरा में दोहराई अपने समर्थकों को भजनपुरा बुलाकर भड़काऊ भाषण दिए जिसके बाद समर्थन में उतरे प्रदर्शनकारी उग्र हुए और दोनों प्रदर्शनकारियों के दौरान माहौल बिगड़ गया।

जिसके बाद जम के पथराव हुआ और गोलियां चलाई गई इस सब के दौरान अब तक 13 लोगों की मौत हो गई है जिसमें 1 पुलिसकर्मी भी शामिल है साथ ही 180 से ज्यादा लोग घायल हैं। 

इस तमाम उपद्रव में स्थानीय लोगों का जमकर नुकसान हुआ बाजारों की दुकानें लूटी गई पेट्रोल पंप में आग लगाई गई दुकानों में आग लगाई गई रोड पर खड़ी गाड़ी को तोड़ा गया मोटरसाइकिल को तोड़ा गया जिसके बाद गाड़ियों वह दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया। इस तमाम विरोध प्रदर्शन में जो हिंसा कर रहे लोग थे उन्होंने जमके अपने घरों को भरा भी लूट के दौरान इंसानियत को ताक पर रखकर हैवानियत का नाच सड़क पर देखने को मिला।

25 फरवरी 2020 दोपहर के समय जब हम मौजपुर बाबरपुर कर्दमपुरी जाफराबाद चांद बाग़ और अन्य उत्तर पूर्वी क्षेत्रों में गए तब वहां बहुत ही स्थिति गंभीर थी मीडिया कर्मियों के कैमरे छीन लिए गए थे हमने भी वहां पर प्रयास किया कि वहां की चीजें हम दिखा सके परंतु जो लोग समर्थन में उतरे थे सैकड़ों की तादात में वह डंडे लोहे के रॉड व हथियारों सहित सड़क पर थे जिन्होंने मीडिया कर्मियों को किसी तरह की अनुमति नहीं दी और कैमरे भी छीन लिए गए।

साथ ही जो विरोध प्रदर्शन में लोग उतरे थे दूसरी तरफ से भी मीडिया कर्मियों को कोई जरूरत नहीं दी गई जिसके चलते उस समय कोई भी तस्वीर या वीडियो नहीं ली गई।

ट्रंप के दौरे के बाद अब उत्तर पूर्वी क्षेत्र में पुलिस ने शूट एंड साइट का ऑर्डर कर दिया है वह तमाम जगहों पर कर्फ्यू लगा हुआ है। 

आज देश के गृहमंत्री व दिल्ली के चीफ मिनिस्टर ने मीटिंग का आयोजन भी किया और दिल्ली की जनता से शांति बनाए रखने की अपील की। कपिल मिश्रा के विवादित बयानों पर बीजेपी के सांसद गौतम गंभीर ने कहा कपिल मिश्रा को भड़काऊ भाषण नहीं देना चाहिए व कपिल मिश्रा के ऊपर सख्त से सख्त कार्यवाही होनी चाहिए। 

सीएए के प्रदर्शन में आज दिल्ली के अंदर पूर्ण रूप से धर्म के रंग को देखा गया है जिसमें सीए के विरोधी ना होकर हिंदू मुसलमान के रंग में लोगों को प्रदर्शन करते देखा गया है।