ALL Crime Politics Social Education Health
सड़क किनारे मुर्गे-बकरे काटने वाली दुकानें खुली मिलीं तो DM-SP होंगे जिम्मेदार
October 22, 2019 • Montoo Raja

*_CM Yogi की चेतावनी- सड़क किनारे मुर्गे-बकरे काटने वाली दुकानें खुली मिलीं तो DM-SP होंगे जिम्मेदार!_*

*_21 अक्टूबर 2019_*

_सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) इससे पहले मीट (Meat) की दुकानों को परदे या फिर चटाई से ढक कर मीट बेचने का आदेश जारी कर चुके हैं._

_लखनऊ. सड़क किनारे दुकान खोलकर मुर्गे और बकरे काटे जा रहे हैं. ऐसे दुकानदार संक्रमण (Infection) फैला रहे हैं. इससे लोग बीमार हो रहे हैं. इस तरह की दुकानों पर प्रतिबंध लगाया जाए. यह कहना है यूपी (UP) के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) का. सड़क किनारे चल रहीं मीट की दुकानों को लेकर सीएम योगी सख्त हैं. ऐसा होने पर उन्होंने संबंधित ज़िले के डीएम (DM) और एसपी (SP) के खिलाफ कार्रवाई करने के संकेत दिए हैं. लखनऊ (Lucknow) में हुई एक बैठक में अधिकारियों को ये निर्देश दिए गए हैं. यह जानकारी सीएम योगी के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने दी._


_*सीएम योगी*_ _का कहना है कि प्रदेश में अवैध बूचड़खाने *(स्लॉटर हाउस)* पूरी तरह से प्रतिबंधित हैं. इसके बावजूद कई जिलों में बूचड़खाने चलने की शिकायतें मिल रही हैं. उन्होंने कहा कि अवैध बूचड़खाने का मतलब बड़े स्लाटर हाउस ही नहीं, बल्कि बाजारों में सड़क किनारे खुलेआम कट रहे मुर्गा और बकरे की दुकानों से भी है. उनका कहना था कि इस पर भी प्रतिबंध लगाया जाए. इससे संक्रमण फैलता है, जो लोगों को बीमार कर रहा है. अगर सड़क किनारे खुलेआम मुर्गा और बकरा कटने की दुकानें दिखी तो संबंधित जिले के डीएम और एसपी की सामूहिक जिम्मेदारी तय होगी और इस पर कार्रवाई भी की जाएगी._

*_अवैध बूचड़खानों के खिलाफ यूपी में चल चुका है अभियान_*

_सीएम योगी आदित्यनाथ के यूपी में सत्ता संभालते ही अवैध बूचड़खानों के लिए खिलाफ अभियान चलाया गया था. गैरलाइसेंसी और खुले में चलने वाले बूचड़खानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की गई थी. रिटेल में मीट बेचने वाले दुकानदारों को भी निर्देश दिया गया था कि वह लाइसेंसी बूचड़खाने से ही मीट खरीदकर बेचें. साथ ही दुकान पर पशु को न काटें. ऐसे दुकानों को परदे या फिर चटाई से ढक कर मीट बेचने का फरमान जारी हुआ था. सख्ती के साथ इसका पालन कराया गया था, लेकिन एक बार फिर से इस तरह की दुकानें शुरू हो गई हैं._