ALL Crime Politics Social Education Health
पत्रकार पर हमले के बाद आईजी कानपुर ने दिया आश्वासन, मामले की होगी निष्पक्ष जांच।
May 21, 2020 • मोंटू राजा • Crime

कानपुर:-

पत्रकारों पर दबंगों के हमले रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। कई जगहों पर यह देखने को मिला है की सच्चाई को और जमीनी तस्वीर को उजागर करने वाले पत्रकार को इसकी कीमत चुकानी पड़ती है। कई जगहों पर माफिया या फिर क्षेत्र के गुंडों ने पत्रकारों को अपनी दबंगी के चलते पीड़ित बनाया है।

ऐसी ही एक घटना उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर की है जहां पर एंटी करप्शन इंडिया के पत्रकार आशू यादव के ऊपर दबंगों ने जानलेवा हमला कर दिया। कट्टे की बट से आशू यादव के सर पर प्रहार किया व बड़ी बेरहमी से पीटा। 

घटना की जानकारी क्षेत्र के थाने रेल बाजार में दी गई जिसके बाद थाना प्रभारी ने एफ आई आर दर्ज करी। यह घटना 18/5/2020 की है। परंतु अभी तक इस घटना के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है। 

पीड़ित आशू यादव का कहना है कि उसे निरंतर धमकियां दी जा रही है और दबाव बनाया जा रहा है कि वह सुलहा कर ले। परंतु पीड़ित का कहना है कि वह सच्चाई को उजागर करेगा और सच के साथ ही रहेगा ताकि ऐसे दबंगों के हौसला बुलंद ना हो सके। इस संदर्भ में कानपुर नगर के आईजी मोहित अग्रवाल से भी आशू यादव ने मुलाकात की जिस पर आईजी जोन कानपुर ने आश्वासन दिया कि सीओ कैंट को आदेश दिए गए हैं कि वह इस मामले की निष्पक्ष जांच कर जो भी सच्चाई है वह सामने लेकर आए।

पत्रकार पर हमले के बाद एंटी करप्शन इंडिया के संपादक अतहर हुसैन का कहना है की अगर इस पर कोई कड़ी कार्यवाही नहीं होती है तो वह सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस घटना के बारे में अवगत कराएंगे। क्योंकि समस्त उत्तर प्रदेश में यह कई बार देखा गया है की पत्रकारों के साथ अभद्रता और माफियाओं द्वारा उनको डराया धमकाया या जान से मारने की धमकी दी जाती है।