ALL Crime Politics Social Education Health
नैन-मटक्का” के चक्कर में फंस गए थे जिला समाज कल्याण अधिकारी
April 13, 2020 • आशू यादव • Crime

*आशू यादव की खास रिपोर्ट SUB Bureau Chif Kanpur*✒️✒️


*नैन-मटक्का” के चक्कर में फंस गए थे जिला समाज कल्याण अधिकारी…..!*

*इटावा।* *जिला समाज कल्याण *अधिकारी के घर पर मारपीट कर लूटपाट की घटना को अंजाम देने वाले चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक समाज कल्याण अधिकारी को उनके ही विभाग के* *सुपरवाइजर ने हनीट्रैप के चक्कर में फांसकर वारदात *करवाई थी। आरोपी सुपरवाइजर, उसके दोस्त व दो युवतियों को गिरफ्तार करके पुलिस ने लूटी गई सात लाख रुपये की रकम में से साढ़े पांच लाख रुपये, सोने की चेन व तीन *मोबाइल बरामद किए हैं।ट्रांजिट हॉस्टल स्थित सरकारी आवास में *जिला समाज कल्याण *अधिकारी शिशुपाल सिंह के *साथ आठ अप्रैल को लूटपाट *हुई थी।*

*एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि घटना का मुख्य अभियुक्त राहुल यादव समाज* *कल्याण विभाग में ही चकरनगर तहसील क्षेत्र में पर्यवेक्षक के पद पर तैनात है, उसने ही जिला समाज कल्याण अधिकारी शिशुपाल सिंह पर बेवजह परेशान करने का आरोप लगाते हुए वारदात की कडियां खोली। उसने पूछताछ में बताया कि समाज कल्याण अधिकारी ने उसका वेतन रोक दिया था, जिससे वह परेशान था। वारदात से कुछ दिन पहले उसने ज्योति नामक युवती को वृद्धावस्था पेंशन के काम से जिला समाज कल्याण अधिकारी के पास भेजा। मुलाकात के बाद दोनों के बीच फोन पर बातें होने लगी। 5* *अप्रैल को समाज कल्याण अधिकारी ने ज्योति को अपने सरकारी आवास पर बुलाया।
*
 जहां ज्योति को लालच देकर बहलाया फुसलाया गया। 6 अप्रैल को ज्योति दोबारा उनके पास गई और उसने उनकी बातों का वीडियो बना लिया। राहुल ने पूछताछ में बताया कि सात अप्रैल को उसने अपने एक दोस्त मनीष यादव, महिला मित्र पूनम व ज्योति को योजना बनाकर समाज कल्याण अधिकारी के पास भेजा था। काम न बनने पर 8 अप्रैल को फिर से इन्ही लोगों को वहां भेजा, जिन्होने मारपीट कर रुपये व अन्य चीजें लूटकर वारदात को अंजाम दिया था।एसएसपी के अनुसार लूटे गए सात लाख रुपयों में से एक लाख रुपये ज्योति के बैंक खाते में जमा कर दिए गए। 50 हजार रुपयों से गिरवी रखी हुई सोने की चेन छुड़वाई गई, बाकी साढ़े पांच लाख रुपये अभियुक्तों के पास से बरामद हुए हैं। समाज कल्याण अधिकारी से लूटे गए दो मोबाइल सूतमिल के पास झाड़ियों में फेंके गए थे, जिन्हे भी पुलिस ने बरामद कर लिया है।

*इस मामले का पर्दाफाश करने एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी में एसओजी प्रभारी सत्येंद्र सिंह यादव, सर्विलांस प्रभारी बीके सिंह व सिविल लाइन थाना प्रभारी निरीक्षक मदन गोपाल गुप्ता की टीम ने प्रमुख भूमिका निभाई और सैफई थाना क्षेत्र के चंदेपुरा गांव निवासी राहुल यादव, भरथना थाना क्षेत्र के झिंझुआ गांव निवासी मनीष यादव, मैनपुरी जिले की पूनम व बकेवर थाना क्षेत्र की शादीशुदा ज्योति को कल भरथना ओवरब्रिज के पास से गिरफ्तार कर लिया, इनसे साढ़े पांच लाख की नगदी के अलावा एक सोने की चेन, चाकू, तीन मोबाइल, स्कूटी व मोटरसाइकिल बरामद हुई है।*