ALL Crime Politics Social Education Health
महिलाओं से छेड़छाड़ कर रहे मनचले लड़को का विरोध करने पर, पत्रकार पर चापड़ से हमला
January 23, 2020 • दीनेश कुमार

*पत्रकार पर चापड़ से जानलेवा हमला करने का प्रयास*


हिंदुस्तान की पत्रकारिताा का स्तर नीचेे जाता। जहां पत्रकारिता को हिंदुस्तान में लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहा जाता है वही पत्रकारों पर उत्पीड़न भी देखने को मिलता है। ऐसी ही एक वारदात उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में देखने को मिली जहां लड़कियों को छेड़ रहे युवाओं का विरोध करने पर पत्रकार पर चौपड़ से हमला किया गया।

फेथफुल गंज बाजार में मुर्गे के गोश्त की दुकान पर बैठने वाले युवकों द्वारा आने जाने वाली महिलाओं से छेड़ छाड़ का विरोध करना पत्रकार पर पड़ा भारी.। फेथफुल गंज बाजार में मुर्गे का गोश्त बेंचने वाले दुकानदार फैसल अक्सर अपनी दुकान पर आवारा किस्म के लड़कों को बैठता है। 

जो अक्सर बाज़ार में आने वाली महिलाओं व लड़कियों के साथ छेड़ छाड़ करते हैं। सुत्रों की माने तोअपराधी किस्म की छवि वाला फैसल कई बार जेल जा चुका है। आज जब क्षेत्रीय लोगों ने उसका विरोध किया तो फैसल लड़ने पर उतारू हो गया।

इस पर बीच बचाव कर रहे क्षेत्रीय पत्रकार डीके के ऊपर मुर्गा काटने वाले चापड़ से जान से मारने की नीयत से वार किया लेकिन पीछे हट जाने से चापड़ वार खाली चला गया जिससे डीके बाल बाल बच गया। इतने में परिवारिक व क्षेत्रीय लोगों में दुकानदार को खरी खोटी सुना कर सुधरने की चेतावनी दी।क्षेत्रीय लोगों में घटना के खिलाफ बेहद रोष है।

वहीं पीड़ित पत्रकार डीके ने  आरोपी के फैसल के विरूद्ध पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस ने जांच कर आरोपी के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है।