ALL Crime Politics Social Education Health
मध्य प्रदेश: बागी विधायकों पर स्पीकर ने कहा, दुखी मन से स्वीकार किया इस्तीफ़ा
March 20, 2020 • M Rizwan

मध्य प्रदेश: बागी विधायकों पर स्पीकर ने कहा, दुखी मन से स्वीकार किया इस्तीफ़ा,

20/03/2020 m rizwan 

 

मध्य प्रदेश में जारी सियासत के बीच कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा दे दिया. उन्होंने राज्यपाल लालजी टंडन को इस्तीफ़ा सौंपा. उधर विधायकों के इस्तीफों को भी स्पीकर ने स्वीकर कर लिया. इस्तीफे स्वीकार करने के बाद स्पीकर ने कहा कि उन्होंने दुखी मन से इस्तीफे स्वीकारे हैं.

 

प्रेस कांफ्रेंस में स्पीकर एनपी प्रजापति ने कहा कि उन्होंने दुखी मन से इस्तीफे स्वीकार किए हैं, क्योंकि उनके पास कोई दूसरा चारा नहीं था. उन्होंने कहा कि संविधान ने जो मुझे शक्तियां दी, उसका पालन करना जरुरी है. लोकतंत्र में ये विडंबना आ गयी है कि जनता किस हेतु के लिए आपको चुनकर भेजती है और आने के बाद आप क्षेत्र को नजरअंदाज करते हैं और खुद के बारे में सोचते हैं.

स्पीकर ने कहा कि जब मामला सुप्रीमकोर्ट तक पहुंच गया, तो मेरे पास इस्तीफ़ा स्वीकार करने के अलावा कोई रास्ता नहीं थी. वहीं बीजेपी द्वारा लगाए गए आरोप पर उन्होंने कहा कि किसी के आरोप पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे. आज विधानसभा के सदन की कार्यवाही 2 बजे से शुरू होगी, सुप्रीमकोर्ट के आदेश पर सदन चलेगा.

गौरतलब है कि सुप्रीमकोर्ट ने गुरुवार को कमलनाथ सरकार को फ्लोर टेस्ट करवाने का आदेश दिया. इससे पहले स्पीकर ने सदन को 26 मार्च तक स्थगित किया था. साथ ही 16 बागी विधायकों के इस्तीफे भी स्वीकार नहीं किए थे.