ALL Crime Politics Social Education Health
माँ ने बच्चें को बेचने से किया इंकर तो आरोपी दम्पति ने कर लिया किडनेप
March 17, 2020 • Montoo raja

माँ ने बच्चें को बेचने से किया इंकर तो आरोपी दम्पति ने कर लिया किडनेप

पुलिस FIR दर्ज कर 1 सप्ताह के अंदर सकुशल बरामद किया बच्चे को 

आरोपी दम्पति समेत 1 और शख्स है फरार जबकि आरोपी के सहयोगी दम्पति हुए गिरफ्तार


दिल्ली पुलिस ने मेरठ से मासूम सुरिक्षत बरामद,मेरठ से दंपत्ति गिरफ्तार 


गिरफ्तारी से चंद घंटे पहले आरोपियों के सहयोगी दम्पति से मांगा था पांच लाख की फिरौती

विजुअल डिटेल्स -- आरोपी दम्पति के, बरामद बच्चे का, माँ और जुड़वाँ दूसरे बच्चे का भी, बच्चे के मिलने की खुशी में केक काट किया सेलिब्रेशन और पुलिस के विजुअल

लोकेशन :- तिग्री थाना/साउथ दिल्ली


एंकर :- 3 महीने पहले ही एक महिला ने दो जुड़वा ब'चों को जन्म दिया था। जन्म के बाद से उसके एक बच्चे को गोद लेने के लिए आने लगे। इस दौरान पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने भी अपने दमाद को डेढ़ लाख रुपये में बच्चे को बेचने को कहा। लेकिन महिला ने अपनी बच्चे को बेचने से मना कर दिया। इस पर नाराज पड़ोसी महिला पिंकी के दामाद ने अपने साथियों के साथ मिलकर तीन महीने के मासूम को अगवा कर लिया। लेकिन पुलिस ने काफी मेहनत के बाद आखिरकर ब'चे को मेरठ से सकुशल बरामद कर एक आरोपी दंपति रेखा और संजय को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं रणवीर, मकर और बबलू की तलाश में जुटी है। 


वीओ :- डीसीपी अतुल कुमार ठाकुर ने ने बताया कि आरोपियों को एसएचओ आरपी मीणा के नेतृत्व में बनी एसआई रामपाल, लाला राम कांस्टेबल धर्मेन्द्र और देवेन्द्र की टीम ने आरोपी दंपत्ति को मेरठ से गिरफ्तार किया है और बच्चे को भी सकुशल बरामद कर लिया गया है। उनके मुताबिक मामला तिगड़ी इलाके की है,जहां पर धनमाया अपने दो ब'चों के साथ रहती है। आठ महीने पहले ही उसका पति उसे छोड़ कर रखा है। तीन महीने पहले ही धनमाया ने जुड़वा ब'चे को जन्म दिया था। तब से कई लोग उसके बच्चे को गोद लेना चाहते थे। लेकिन उसने मना कर दिया था। तभी पड़ोस में ही रहने वाली पिंकी ने अपने दामाद को एक बच्चा डेढ़ लाख रुपये में बेच अपने गांव असम जाने को बोला। लेकिन धनमाया ने मना कर दिया। 


वीओ :- धनमाया बगल में ही एक ढाबे पर काम करती है। छह मार्च को शाम को धनमाया खाना लेने के लिए ढाबे पर गई थी। लेकिन जब वापस आई तो एक बच्चान उसका गायब था। 30 से 40 सीसीटीवी जांच के बाद आरोपी की हुई पहचान पुलिस अधिकारी के मुताबिक मामला दर्ज कर ब'चे की तलाश शुरू की गई। 30 से 40 सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई, जिसमें बाइक सवार दो युवक बच्चे को ले जाते दिखाई पड़े। लेकिन उनकी पहचान नहीं हो पा रही थी। लेकिन एक सीसीटीवी में कार में ब'चे को डालते हुये देखा गया। वह कार दुर्गा विहार निवासी रणवीर की निकली, जो पिंकी का दामाद है। हालांकि घटना के बाद से रणवीर फरार हो गया। जबकि बाइक सवारों की पहचान कमर और बबलू के रुप में हुई आखिरकर शनिवार रात सर्विलांस की मदद से ब'चे को मेरठ के रेखा और संजय के घर से सकुशल बरामद कर लिया गया। कमर ने बच्चे को अपने साढू के घर बच्चे को छिपा रखा था। आरोपियों ने गिरफ्तार से कुछ घंटे पहले धनमाया को फोन कर पांच लाख की फिरौती भी मांगी थी। लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने धर दबोचा।

 

वीओ :- पूछताछ में पता चला कि आरोपी बच्चे को आगे बेचने  वाले थे। लेकिन होली के कारण ब'चा बिक नहीं पाया और उससे पहले ही पुलिस ने आरोपी दंपत्ति को धर दबोचा। फिलाहल पुलिस मुख्य आरोपी रणवीर,कमर और बबलू की तलाश में जुटी है।