ALL Crime Politics Social Education Health
कोविड-19 के चलते, सोशल डिस्टेंसिंग वॉलिंटियर स्कीम की गई लॉन्च
April 15, 2020 • Montoo Raja • Social

दिल्ली: 
दिल्ली दक्षिण पूर्वी क्षेत्र बदरपुर थाने के अंतर्गत कोविड-19 के चलते सोशल डिस्टेंसिंग वॉलिंटियर स्कीम लॉन्च की गई। क्षेत्रीय थाना प्रभारी व अन्य पुलिसकर्मियों द्वारा यह प्रस्ताव अपने क्षेत्र अधीक्षक के समस्त प्रस्तुत किया गया, जिसमें यह देखा गया की क्षेत्र के अंदर जनसंख्या अधिक है, और पुलिसकर्मी इस समय के हालात से निबटने के लिए उनकी संख्या कम है। जिसके चलते यह प्रस्ताव रखा गया कि क्षेत्रीय आरडब्लूए , पुलिस मित्रा , सोशल वर्कर आदि को डिस्टेंसिंग वॉलिंटियर बनाए जाएं।

जिसके बाद साउथ रेंज ज्वाइंट कमिश्नर देवेश चंदेर श्रीवास्तव द्वारा एडिशनल डीसीपी एसीपी थाना प्रभारी समेत डिस्टेंसिंग वॉलिंटियर को एक्टिव किया गया जिसमें एक थाने में 25 व जिले के अंदर 138 वॉलिंटियर रखे गए।
बदरपुर थाना क्षेत्र में जनसंख्या तकरीबन 500000 है। बदरपुर गांव, ताजपुर गांव, मुलाकात गांव, सुभाष कैंप, भात कैंप आदि ऐसे क्षेत्र हैं जहां पर जनसंख्या काफी अधिक है। जिसके चलते एसीपी बदरपुर के नेतृत्व में इन वॉलिंटियर्स को नियुक्त किया गया। बदरपुर थाना क्षेत्र में 5 डिवीजन और 10 बीट हैं जिसके चलते एक डिवीजन में 10 वालंटियर की तैनाती की जाएगी।

सोशल डिस्पेंसिंग वॉलिंटियर का यही काम होगा कि वह क्षेत्र के अंदर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन लोगों से करवा सकें उन्हें बता सके। 

साथ ही थाना अमर कॉलोनी क्षेत्र के अंतर्गत ओखला मंडी के लिए भी सोशल डिस्पेंसिंग वॉलिंटियर नियुक्त किए गए जिससे मंडी में सब्जी और फल लेने वाले लोगों में सोशल डिस्टेंसिंग बनाई रखी जाए। थाना अमर कॉलोनी में भी थाना प्रभारी वा जिला डीसीपी साथ ही दिल्ली साउथ रेंज ज्वाइंट कमिश्नर दिवेश चंदेर श्रीवास्तव द्वारा क्षेत्र पुलिसकर्मी व वॉलिंटियर को कैसे काम करना है यह बताया गया।

क्षेत्रों के अंदर यह भी सुनिश्चित किया गया की वॉलिंटियर किसी भी तरह की अभद्रता जनता के साथ ना करें साथ ही वॉलिंटियर्स के लिए व्हाट्सएप ग्रुप बनाए गए साथ ही बीट ऑफिसर्स द्वारा दिन में दो बार वॉलिंटियर्स की ब्रीफिंग की जाएगी। व वॉलिंटियर द्वारा क्षेत्रों के अंदर यह ध्यान रखा जाएगा कि कहीं पर भी अगर किसी तरह का अनुशासन तोड़ा जा रहा है तो तुरंत पुलिस की सहायता से कानूनी कार्यवाही की जा सके।

वॉलिंटियर्स को (लोअर, टीशर्ट, मास्क, चश्मा, ग्लव्स, हेड कवर, सिटी, आई कार्ड) मुहैया कराया गया व यह भी बताया गया कि अगर कोई वॉलिंटियर किसी भी प्रकार से कानून को हाथ में लेता दिखाई दिया तो उस पर भी कानून द्वारा कार्रवाई की जाएगी।