ALL Crime Politics Social Education Health
कोरोनावायरस के चलते प्रशासन ने शुरू करवाया सर्वे
April 16, 2020 • Montoo Raja • Social

कोरोनावायरस के मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती दिखाई दे रही है। जिसके चलते सरकार द्वारा लोगों को लॉक डाउन का पालन करने के लिए आग्रह किया गया है।
कई जगहों पर यह देखा गया है कि कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों ने अपने को छुपाया व शासन प्रशासन के सामने यह नहीं आने दिया कि उन्हें किसी भी तरह की कोई स्वास्थ्य में परेशानी है।

देश में कई जगहों पर यह भी देखने को मिल रहा है की कोरोना वायरस के लक्षणों की पुष्टि कई लोगों में देखने को मिली है जो अपने आप को सरकार व प्रशासन के सामने नहीं लाना चाहते। जिसके चलते कोरोना वायरस की चपेट में और भी लोग आ रहे हैं।

इस सबके चलते अब शासन प्रशासन ने अलग-अलग क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग के नेतृत्व में कई जिलों वा राज्यों में सर्वे करवाना शुरू कर दिया है। सर्वे कर रहे लोगों का कार्य यह होता है, कि वह घर घर जाकर लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी प्राप्त करें व अगर कोई भी व्यक्ति ऐसा पाया जाता है, जिसके लक्षण कोरोला वायरस मरीजों जैसे पाए जाते हैं तो उन्हें तुरंत जांच के लिए अस्पताल भेजा जाता है।

ऐसा ही एक सर्वे उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर में चल रहा है। जहां पर नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ग्वालटोली शूटर गंज व अन्य क्षेत्रों जिनमें चमनगंज, कर्नलगंज , बांस मंडी, कुली बाजार, अनवरगंज और लाटूस रोड शामिल है, फिलहाल ईदगाह कॉलोनी में सर्वे चल रहा है।

लक्ष्मी वर्मा व सर्वे करने वाली 3 महीना निशा, गीता, शरी आंगनवाड़ी केंद्र चलाती हैं जिन्हें प्रशासन द्वारा यह कार्य सौंपा गया है, कि वह क्षेत्र के अंदर सर्वे कर लोगों का पता करें की किसी भी जगह कोई ऐसा मरीज तो नहीं जिसके अंदर कोरोनावायरस के लक्षण पाए जा रहे हैं। 

अभी तक 150 व्यक्तियों का सर्वे किया जा चुका है। जिसमें एक मरीज ऐसा पाया गया है जिसके अंदर कोरोनावायरस जैसे लक्षण पाए गए हैं। वह व्यक्ति सुल्तानपुर से आया है व संतलाल बगीचे का रहने वाला है। महिलाओं से बात करने पर महिलाओं ने बताया की प्रशासन को सूचित कर मरीज को हैलट अस्पताल पहुंचाया गया है परंतु अभी तक कोरोनावायरस की पुष्टि नहीं हुई है।