ALL Crime Politics Social Education Health
कोरोना संक्रमित महिला कांस्टेबल की मौत, 4 दिन पहले ही हुई थी डिलीवरी
May 7, 2020 • आशू यादव • Health

*आशू यादव की खास रिपोर्ट SUB Bureau Chief Kanpur*✒️✒️
➖➖➖➖➖➖➖➖
     *भ्रष्टाचार और जुर्म के खिलाफ हर पल आपके साथ*
➖➖➖➖➖➖➖➖

*दूखद कोरोना संक्रमित महिला कांस्टेबल की मौत 4 दिन पहले ही हुई थी डिलीवरी अपनों ने सब से दूरी बनाई*

*आगरा में कोरोनावायरस से संक्रमित महिला सिपाही की बुधवार को मौत हो गई 4 दिन पहले उसने बेटी को जन्म दिया था तभी उसकी सेंपलिंग हुई थी मौत के बाद उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई इसके बाद महिला के शव को कोई छूने के लिए तैयार नहीं है उसका सब दोपहर से ही घर के बाहर गाड़ी में पड़ा रहा मौत की जानकारी पाकर स्वस्थ विभाग की टीम रवाना हुई है कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत उसका अंतिम संस्कार कराने के साथ परिवार के अन्य लोगों को।  क्वारेइटान   वाह उनकी सेंपलिंग की जाएगी मूर्ति का की ट्रेवल हिस्ट्री भी कंगाली जा रही है क्या है पूरा मामला*

*प्राप्त जानकारी के अनुसार कानपुर में तैनात सिपाही विनीता की आगरा के सिकंदरा थाना क्षेत्र में ससुराल है मायका मैनपुरी में है सिपाही का पति यह एक निजी* *कंपनी में कार्यकरत है विनीता चौधरी 27 की कानपुर जिले के बिल्हौर थाने में तैनाती थी वह गर्भवती थी इसलिए 5 अप्रैल को छुट्टी लेकर वह इन दिनों अपनी ससुराल में थी विनीता का मायका मैनपुरी जिले में है 4 दिन पहले 2 मई को विनीता ने लेडी लॉयल अस्पताल में बच्ची को जन्म दिया प्रसव पूर्व उनकी कोरोना जाच हुई थी बुधवार सुबह अचानक* *तबीयत बिगड़ी जिस पर परिजन उसे कार से रेनबो अस्पताल लेकर गए आरोप है कि अस्पताल कर्मियों ने इलाज करने से मना कर दिया सिपाही ने कार में ही दम तोड़ दिया इस बीच उसकी रिपोर्ट को रोना फौजी टिप आने पर बस्ती में दहशत फैल गई 5 घंटे तक सब कार में रखा जैसे ही यह बात लोगों को पता चली तो लोगों ने दूरी बना ली कोई भी महिला के सब को हाथ लगाने के लिए तैयार नहीं है सब गाड़ी में ही पड़ा रहा बस्ती के लोग चाहते हुए भी महिला सिपाही के घर जाकर शौक वक्त करने का साहस नहीं जुटा सके*