ALL Crime Politics Social Education Health
कहीं दिखी पुलिस की मुस्तैदी, तो कहीं है पुलिस लापता।
April 20, 2020 • Montoo raja • Social

उत्तर प्रदेश कानपुर:
लॉक डाउन के चलते पूरे देश में पुलिस व अन्य सुरक्षा बल लॉक डाउन का पालन करवाने के लिए जगह-जगह तैनात है। लॉक डाउन जनता ना तोड़े जिसके चलते कई जगह पर पुलिसकर्मी मुस्तैद दिखे तो कहीं लापता।

* उत्तर प्रदेश के कानपुर नगर में रावतपुर रेलवे स्टेशन के पास चौराहे पर तैनात पुलिसकर्मियों से की बातचीत।

* जाना कि किस तरह हो रहा है क्षेत्र के अंदर लॉक डाउन का पालन। लॉक डाउन का पालन ना कर रहे लोगों पर क्या कर रही है पुलिस कार्रवाई?

रावतपुर चौराहे पर तैनात कुछ थाना पुलिस कर्मी और कुछ ट्रैफिक पुलिसकर्मी मौजूद थे, जिनसे एंटी करप्शन इंडिया के चीफ एडिटर अतहर हुसैन ने ली जानकारी। इतनी मुस्तैदी से यहां पर अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं और अगर लॉक डाउन का उल्लंघन करते लोग मिलते हैं तो उन्हें क्या दंड दिया जाता है?

मौजूदा पुलिसकर्मियों ने बताया कि हमारे क्षेत्र में पूरी तरह से लॉक डाउन का पालन करवाया जा रहा है। इस क्षेत्र के लोग बहुत सहयोग देते हैं व समझदार भी हैं, जिन्हें पता है इस महामारी के समय लॉक डाउन ही एकमात्र समाधान है। साथ ही देश के प्रधानमंत्री और राज्य के मुख्यमंत्री ने भी जनता से आग्रह किया है। 

कई वीडियोस में पाया गया है की उत्तर प्रदेश के अंदर कई पुलिस वाले जनता के साथ बर्बरता करते नजर आए। इस पर बात करने पर पुलिसकर्मी ने साफ कह दिया कि हमारे क्षेत्र में इस तरह की किसी वारदात को अंजाम नहीं दिया जाता है। ‌ हम विनम्रता से लोगों को समझाते हैं और लोग भी लॉक डाउन का पूरा पालन करते हैं। पुलिसकर्मियों से जब उनके सीनियर अफसर के बारे में जानकारी ली तो मौजूदा पुलिसकर्मियों ने बताया की चौकी इंचार्ज अभी कहीं गए हैं।

कानपुर नगर में कई जगहों पर यह देखा गया है की कई क्षेत्रों के अंदर पुलिसकर्मी कड़ी मेहनत करके अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं। व कई जगहों पर यह भी देखने को मिला है की कई क्षेत्रों में पुलिसकर्मी मौजूद होते हैं तो कई जगह पुलिसकर्मी नजर नहीं आते। जहां पर लॉक डाउन का पालन देखने को नहीं मिलता। इन क्षेत्रों को देखकर यह कहा जा सकता है कि पुलिसकर्मी भी अब थक गए हैं और वह भी आराम करना चाहते हैं। परंतु ऐसे पुलिसकर्मियों की ढिलाई से जो पुलिसकर्मी सकती से लोगों का पालन करवा रहे हैं व खुद भी भारी मशक्कत के बाद अपनी ड्यूटी को अंजाम दे रहे हैं उनकी भी मेहनत जा़या जाती है।