ALL Crime Politics Social Education Health
कानपुर-सीएम के सख्त तेवरों के बाद एक्शन में पुलिस, एक दर्जन हमलावर हिरासत में।
April 30, 2020 • आशू यादव • Crime

*आशू यादव की खास रिपोर्ट SUB Bureau Chief Kanpur*✒️✒️
➖➖➖➖➖➖➖➖
     *भ्रष्टाचार और जुर्म के खिलाफ हर पल आपके साथ*
➖➖➖➖➖➖➖➖

 *कानपुर ब्रेकिंग न्यूज़*

*कानपुर-सीएम के सख्त तेवरों के बाद एक्शन में पुलिस,1 दर्जन हमलावर हिरासत में।*

*कानपुर में हॉटस्पॉट क्षेत्र बजरिया थाने के जुगियाना मोहल्ले के नौ लोगों को क्वारंटीन कराने गयी स्वास्थ्य टीम को सैकड़ों लोगों ने घेर कर स्वास्थ्य कर्मियों व पुलिस टीम पर पथराव करने के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संज्ञान लेने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है सीओ सीसामऊ त्रिपुरारी पाण्डेय ने बताया कि उपद्रवियों पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर, दबिश देकर एक दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जारी है। 

बजरिया थानाक्षेत्र का मुन्नापुरवा हॉटस्पॉट है। बजरिया के जुगियाना मोहल्ले एक केस* *कोरोना पॉजिटिव आया है। रिपोर्ट आने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम बुधवार दोपहर को उनके परिवार के नौ लोगों को क्वारंटीन कराने के लिए लेने गई थी। स्वास्थ्य विभाग के टीम के निकलते ही भीड़ ने मेडिकल टीम और पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। पुलिस ने मेडिकल टीम को वहां से किसी तरह सुरक्षित निकाल दिया। 

इससे आक्रोशित भीड़ ने थानेदार और फोर्स पर पथराव शुरू कर दिया। इलाके के सैकड़ों लोग सड़क पर उतर आए। मामले की जानकारी मिलते ही सीसामऊ सीओ तीन थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। तनाव को देखते हुए पीएसी को भी बुलाया। पुलिस ने लाठी पटककर भीड़ को खदेड़ा तब जाकर माहौल शांत हो सका।*

*मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ ने कानपुर में मेडिकल टीम और पुलिस टीम पर हमला करने वालों पर सख्‍त कार्रवाई करने के आदेश द‍िए है। सीएम ने कहा, कानपुर में हमलावरों को तत्काल चिन्हित किया जाए और क‍िसी भी दोषी को क‍िसी भी कीमत पर बख्शा न जाये। सभी दोषियों पर गैंगस्टर और NSA के तहत कार्रवाई की जाए।*

*कानपुर की घटना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को एक वीडियो संदेश में कहा कि पूरा प्रदेश मिलकर कोरोना के विरुद्ध लड़ाई लड़ रहा है। ऐसे समय में इस कृत्य को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि मामले की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए हमने एपिडेमिक एक्ट में व्यापक संशोधन की कार्रवाई को आगे बढ़ाया है और इसके तहत सुरक्षाकर्मी, स्वच्छता कर्मी और कोरोना वॉरियर्स पर अगर कोई भी व्यक्ति हमला करता है तो उसे सात वर्ष की सजा और पांच लाख रुपये तक का जुर्माना भुगतना होगा। योगी ने कहा कि कानपुर में कुछ लोगों ने दुस्साहस किया है। इसके पीछे जो भी लोग हैं, सबके ऊपर सख्त कार्रवाई के निर्देश पुलिस अधिकारियों को दिए गए हैं।*