ALL Crime Politics Social Education Health
कानपुर की शान कलक्टर गंज भी कोरोना के संक्रमण  मे आया
April 30, 2020 • आशू यादव • Health

*आशू यादव की खास रिपोर्ट SUB Bureau Chief Kanpur*✒️✒️
➖➖➖➖➖➖➖➖
     *भ्रष्टाचार और जुर्म के खिलाफ हर पल आपके साथ*
➖➖➖➖➖➖➖➖

 

 

*आशू यादव की खास रिपोर्ट SUB Bureau Chief Kanpur*✒️✒️
➖➖➖➖➖➖➖➖
     *भ्रष्टाचार और जुर्म के खिलाफ हर पल आपके साथ*
➖➖➖➖➖➖➖➖

 


*कानपुर की शान कलक्टर गंज भी कोरोना के संक्रमण  मे आया


*कानपुर .देर रात से सिटी मजिस्ट्रेट हिमांशु गुप्ता सी ओ कलक्टर गंज श्वेता यादव सेक्टर मजिस्ट्रेट इंस्पेक्टर कलक्टर गंज राजेश पाठक  व खुफिया* *अभिसूचना संकलन अधिकारी संजीव दीक्षित आगे संक्रमण ना *फेले रणनीति बनाते रहे ..*
*व्यापारी के घऱ की रोड पूरी तरह* *ब्लाक की गई ..*
*रोड के दोनो और बेरियर लगा फोर्स ने मोर्चा सम्हाला*
  *गौरतलब हैः  व्यापारी का परिवार अपनी बहू की मृत्यु पर शोक भी नही कर पाया और उस पर उन के परिवार पर कोरोना संक्रमण की ऐतियात  मे सुरक्षा* *की द्रष्टि से सभी लोगो को *कोरनटाइन में ले जाया गया ।*
  *अध्यक्ष आशीष मिश्रा ने ज़िला प्रशासन से मांग की  है  कोरोना* *के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पूरी कलक्टरगंज की बाजार को सेनेटाइज़ कराया जाय।* 
    *कलक्टर गंज के व्यापारियों ने अध्यक्ष आशीष मिश्रा के आवाहन मे आज इस दुख की घड़ी में लक्ष्मी नारायन गुप्ता लल्ली बाबू के परिवार के दुःख मे आज अपनी थोक  दुकानें बन्द रखी*

*कानपुर .देर रात से सिटी मजिस्ट्रेट हिमांशु गुप्ता सी ओ कलक्टर गंज श्वेता यादव सेक्टर मजिस्ट्रेट इंस्पेक्टर कलक्टर गंज राजेश पाठक  व खुफिया* *अभिसूचना संकलन अधिकारी संजीव दीक्षित आगे संक्रमण ना *फेले रणनीति बनाते रहे ..*
*व्यापारी के घऱ की रोड पूरी तरह* *ब्लाक की गई ..*
*रोड के दोनो और बेरियर लगा फोर्स ने मोर्चा सम्हाला*
  *गौरतलब हैः  व्यापारी का परिवार अपनी बहू की मृत्यु पर शोक भी नही कर पाया और उस पर उन के परिवार पर कोरोना संक्रमण की ऐतियात  मे सुरक्षा* *की द्रष्टि से सभी लोगो को *कोरनटाइन में ले जाया गया ।*
  *अध्यक्ष आशीष मिश्रा ने ज़िला प्रशासन से मांग की  है  कोरोना* *के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पूरी कलक्टरगंज की बाजार को सेनेटाइज़ कराया जाय।* 
    *कलक्टर गंज के व्यापारियों ने अध्यक्ष आशीष मिश्रा के आवाहन मे आज इस दुख की घड़ी में लक्ष्मी नारायन गुप्ता लल्ली बाबू के परिवार के दुःख मे आज अपनी थोक  दुकानें बन्द रखी*