ALL Crime Politics Social Education Health
ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर बोले राहुल – भविष्य के डर से आरएसएस की गोद में जा बैठे
March 12, 2020 • M Rizwan

ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर बोले राहुल – भविष्य के डर से आरएसएस की गोद में जा बैठे

Mar 12, 2020 M RIZWAN 


ज्योतिरादित्य सिंधिया के अचानक से कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल होने को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि वह अपने भविष्य को लेकर डरे हुए थे। इसलिए आज आरएसएस की गोद में जा बैठे।

उन्होने कहा, ”सिंधिया मेरे पुराने मित्र हैं, वे अपनी विचारधारा भूल गए क्योंकि वे अपने राजनीतिक जीवन के बारे में आशंकित थे। अब वे आरएसएस की गोद में जा बैठे हैं।” उन्होंने कहा कि, “वास्तविकता यह है कि उन्हें वहां (बीजेपी) कोई सम्मान नहीं मिलेगा और वे संतुष्ट भी नहीं होंगे। उन्हें इसका एहसास होगा, मुझे पता है क्योंकि मैं उसके साथ लंबे समय से दोस्त हूं। उसके दिल में क्या है और उसके मुंह से क्या निकल रहा है, यह अलग है।”

राहुल ने आगे कहा, यह विचारधारा की लड़ाई है, एक तरफ कांग्रेस और दूसरी तरफ भाजपा-आरएसएस है। यह पूछे जाने पर कि वह अपनी मुख्य टीम के सदस्यों को राज्यसभा क्यों नहीं भेज रहे हैं? राहुल गांधी ने कहा, “मैं कांग्रेस अध्यक्ष नहीं हूं, मैं आरएसएस प्रत्याशियों पर निर्णय नहीं ले रहा हूं। मैं देश के युवाओं को अर्थव्यवस्था के बारे में बता रहा हूं। मेरी टीम में कौन है, मेरी टीम में कौन नहीं है, यह जानने का कोई फायदा नहीं है।

राहुल गांधी ने ये भी कहा कि पीएम मोदी की विचारधारा बांटने वाली है। वे लोगों को बांट रहे हैं, लेकिन कांग्रेस पार्टी लोगों को जोड़ती है। हम ऐसी किसी कोशिश का समर्थन नहीं करते हैं। जो लोग इस तरह की सोच रखते हैं, वे समाज को नुकसान पहुंचाते हैं।

गांधी ने यह भी दावा किया कि भारत एक देश के तौर पर संकट की तरफ बढ़ रहा है, लेकिन प्रधानमंत्री अर्थव्यवस्था को लेकर बेखबर हैं। उन्होंने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा, “हमने देखा कि शेयर बाजार में क्या हुआ है। लाखों लोगों का नुकसान हुआ है। अर्थव्यवस्था की हालत सब देख रहे हैं।” कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया, “मोदी जी और उनकी विचारधारा ने अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया। उनके मुंह से अर्थव्यवस्था के बारे में एक शब्द नहीं निकल रहा है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को तो अर्थव्यवस्था की समझ ही नहीं है।”