ALL Crime Politics Social Education Health
जमातियों की शिकायत करने पर गांव सरावा में बवाल
April 22, 2020 • दीपक शुक्ला • Crime

*_एन्टी करप्शन इंडिया न्यूज_*
*_दीपक शुक्ला बयूरो चीफ कानपुर की ख़ास रिपोर्ट_* 
___________________________

*_जमातियों की शिकायत करने पर गांव सरावा में बवाल_*
___________________________
*हापुड़। कोतवाली क्षेत्र के गांव सरावा में जमातियों के बारे में सूचना देने के शक के आधार पर मारपीट और पथराव हुआ। एक पक्ष ने अचानक पथराव शुरू कर दिया, जिससे दूसरे पक्ष के कई लोग घायल हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पांच घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है। फिलहाल गांव में तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है। पुलिस ने छह नामजद सहित दर्जनों अज्ञात आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।*


*पुलिस के अनुसार हापुड़ कोतवाली क्षेत्र के गांव सरावा में सोमवार को राकेश त्यागी के पुत्र प्रशांत की गांव के इमरान के साथ किसी बात को लेकर मामूली विवाद हो गया था। शाम के समय जब प्रशांत गुलफाम की दुकान पर दाल लेने के लिए गया तो इसी बात को लेकर एक बार विवाद हो गया। जिसके बाद कहासुनी हो गयी। इसके बाद मामला इतना बढ़ा तो दोनों पक्षों के लोग आमने सामने आ गए। तभी कुछ लोगों ने मौके पर पहुंचकर* *बीच-बचाव करा दिया। आरोप है कि बीच-बचाव के बाद जब प्रशांत पक्ष के लोग वापस लौट रहे थे तो इमरान पक्ष के लोगों ने हमला बोल दिया। पीछे से काफी संख्या में लोगों ने लाठी-डंडों और हथियारों से लैस होकर मारपीट शुरू कर दी। जिसके बाद जमकर पथराव भी हुआ।

पथराव और मारपीट में आशाराम त्यागी, प्रयास त्यागी, प्रशांत त्यागी, जॉनी त्यागी और मुकेश त्यागी घायल हो गए। इस दौरान गांव में अफरा तफरी मच गयी। लोगों ने मामले की सूचना* *पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने लाठियां फटकारकर मामला शांत कराया। पुलिस मामले की जांच में जुट गई हैं पुलिस क्षेत्राधिकारी राजेश कुमार भी पुलिस बल के साथ गांव का में पहुँचे। फिलहाल गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है*।

*क्षेत्राधिकारी राजेश कुमार का कहना है कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आरोपियों की तलाश की जा रही है*।
*जमातियों की मुखबिरी के शक में कई दिनों से थी तनाव की स्थिति*


*गांव सवारा में कुछ दिन पहले दिल्ली से तब्लीगी जमात में शामिल होकर आए एक ग्रामीण की कुछ लोगों ने पुलिस और स्वास्थ्य विभाग को सूचना दी थी। जिसके बाद* *पुलिस ने उक्त व्यक्ति के अलावा कुछ लोगों को क्वारंटीन किया था। हालांकि सभी लोग क्वारंटीन पूरा कर अपने घर भी* *पहुंच चुके हैं। लेकिन बताया जाता है कि मुस्लिम समुदाय के युवकों में इसी बात को लेकर गुस्सा था। विवाद और मारपीट के दौरान विशेष समुदाय के लोगों ने जमकर इसी बात को लेकर भुगत लेने की धमकियां भी दी।*