ALL Crime Politics Social Education Health
गोली लगने से सपा नेता रामजी मौर्य की मौत, जांच में जुटी पुलिस
January 3, 2020 • Shadab Hasan

गोली लगने से सपा नेता रामजी मौर्य की मौत, जांच में जुटी पुलिस


सुल्तानपुर जिले में सपा नेता रामजी मौर्य उर्फ राहुल मौर्य की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि रामजी मौर्य की मौत गोली लगने से हुई है। गोली की आवाज सुनकर जब घरवाले उनके कमरे के पास पहुंचे तो रामजी मौर्य खून से लथपथ हालत में पड़े मिले। जिन्हें तुरंत जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। प्राथमिक उपचार के बाद रामजी मौर्य की हालत गंभीर देख डॉक्टरों ने उन्हें लखनऊ ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया और रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

सपा नेता रामजी मौर्य के सुल्तानपुर के शास्त्रीनगर में रहते थे। गुरुवार रात गोली लगने से गंभीर रूप से घायल रामजी मौर्य को पहले जिला अस्पताल सुल्तानपुर ले जाया गया। जहां उनकी हालत गंभीर देख डॉक्टरों ने उन्हें लखनऊ ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया और रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। रामजी मौर्य के मौत की खबर मिलते ही सुल्तानपुर से लेकर अमेठी तक हड़कंप मच गया। पुलिस इसे सुसाइड से जोड़कर देख रही है क्योंकि मौके से लाइसेंसी असलहा भी बरामद हुआ है, साथ ही परिवार की तरफ से कोई तहरीर अभी तक पुलिस को नहीं मिली है, लेकिन पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है कि आखिर रामजी मौर्य की मौत के पीछे की वजह क्या है।

अमेठी से लड़ा था विधानसभा का चुनाव
बता दें रामजी मौर्य उर्फ राहुल मौर्य बहुजन समाज पार्टी के टिकट से 2017 में अमेठी विधानसभा से चुनाव लड़े थे। इसके बाद उन्होंने समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर ली और अमेठी में वह काफी सक्रिय भी थे। रामजी मौर्य ईंट कारोबारी भी थे।