ALL Crime Politics Social Education Health
दिल्ली के शाहीन बाग़ में आज भी सीएए और एनसीआर को लेकर धरनप्रदर्षण जारी, दिल्ली में रसूका (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) लागू
January 19, 2020 • Montoo raja

दिल्ली के शाहीन बाग में सी.ए.ए और एन.आर. सी को लेकर आज भी धरना प्रदर्शन जारी।

दिल्ली में आज केंद्र सरकार द्वारा र.सू.का (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) लागू किया गया,

जिसके अंतर्गत पुलिस की पावर बढ़ जाती है। यह कानून 1980 में बनाया गया था जिसका उस समय भी काफी विरोध किया गया था।

अगर कोई भी व्यक्ति ऐसा लगता है जोकि समाज की व्यवस्था बिगाड़ सकता है तो उसे पुलिस हिरासत में लेकर 3 महीने से 1 साल तक की जेल करवा सकती है। अगर 1 साल में उसके खिलाफ कोई सबूत नहीं मिलता तो वह रिहा हो जाएगा।

शाहीन बाग दिल्ली में चल रहे प्रदर्शन में लोगों से बातचीत के दौरान लोगों ने अपने विचार साझा किए जिसमें लोगों ने बताया कि रसुका दिल्ली में शाइन बाग में हो रहे प्रोटेस्ट को लेकर किया गया है ताकि हम लोगों पर दबाव व डर बनाया जा सके। इस चीज में कितनी सच्चाई है यह समय आने पर ही पता चल पाएगा।

लोगों के मन में कई तरह के सवाल हैं जिनके जवाब जनता सरकार द्वारा चाहती है। प्रोटेस्ट कर रहे लोगों का कहना है की सरकार के द्वारा कोई भी व्यक्ति व नेता नहीं भेजा गया अभी तक शाहीन बाग़, जिसके चलते लोगों का यह भी कहना है कि अगर यह प्रोटेस्ट सिर्फ एक वर्ग विशेष को लेकर नहीं होता तो सरकार के नुमाइंदे उनसे आकर बात करते।

प्रोटेस्ट में जनता से बात करने पर उनके विचारों से यह स्पष्ट हुआ कि वह अपने आप को असहाय व सरकार द्वारा किसी भी तरह का कोई स्पष्ट जवाब ना मिलने के कारण दुविधा में नजर आए।

प्रोटेस्ट में शामिल लोगों ने यह भी कहा की सरकार यह तक नहीं सोच रही है की प्रोटेस्ट के अंदर 60 परसेंट से ज्यादा महिलाएं हैं और शहर की देश की महिलाएं बेटियां धरना दे रही है इस बात का भी सरकार को कोई एहसास नहीं।