ALL Crime Politics Social Education Health
डेढ़ लाख में खुद ही बस बुक कर मुंबई से कोलकाता जा रहे थे मजदूर, छत्तीसगढ़ में हुए हादसे के शिकार
May 31, 2020 • M RIZWAN • Social

*डेढ़ लाख में खुद ही बस बुक कर मुंबई से कोलकाता जा रहे थे मजदूर, छत्तीसगढ़ में हुए हादसे के शिकार*

 

 

31/05/2020 M RIZWAN 

 

 

रायपुर। प्रवासी मजदूरों को उनके घर भेजने की कवायद सरकार ने तेज कर दी है। इसी बीच हादसों की भी खबरें लगातार आ रही हैं। ऐसा ही एक ताजा मामला छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव से आया है जहां मुंबई से कोलकाता जा रहे श्रमिकों की बस पलट गई। उसमें 26 मजदूर सवार थे जिनमें से 7 घायल बताए जा रहे हैं। बस प्राइवेट थी जिसे खुद उन मजदूरों ने बुक किया था। जानकारी के मुताबिक सभी घायलों को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया जहां उनका इलाज चल रहा है।

जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक ये मजदूर कोलकाता से रोजी रोटी की तलाश में मुंबई आए थे। लॉकडाउन के चलते ये मुंबई में ही फंस गए। गांव वापस लौटने के लिए जब सरकार द्वारा कोई संसाधन उपलब्‍ध नहीं हो सका तो उन्‍होंने गांव से रुपए मंगाकर करीब 1 लाख 66 हजार में प्राइवेट बस बुक किया और मुंबई से कोलकाता के लिए निकल गए। लगभग 1 हजार किमी का सफर तय करने के बाद राजनांदगांव से महज 5 किमी दूर पर बस अनियंत्रित होकर पलट गई।

 

बस में सवार 26 श्रमिकों में से 7 को चोट लगी है, जिनमें फारूक मोकोल पिता पवन 24 वर्ष, मुनिदा खतून 20 वर्ष, कबीर पिता समर 18 वर्ष, मुकुंद कम्मुदिन 20 वर्ष, चंदन पिता ग्वाल 37 वर्ष, दीपंकर पिता गोपीनाथ 35 वर्ष, जिनका इलाज मेडिकल कॉलेज अस्पताल में किया जा रहा है। बस में सवार अन्‍य प्रवासी मजदूरों ने बताया कि रास्‍ते में लगभग 9 बजे भोजन के लिए रूके थे। भोजन करने के बाद बस जब फिर चली तो ड्राइवर को झपकी आ गई।