ALL Crime Politics Social Education Health
भूक से भी लग रहे बच्चों और 82 लोगों के लिए राशन लेकर पहुंची पुलिस
March 26, 2020 • आशू यादव

*आशू यादव की खास रिपोर्ट SUB  ब्यूरो चीफ कानपुर*✒️
  ➖➖➖➖➖➖✒️


  
*नोएडा, ऑनलाइन डेस्क। Coronavirus Noida Lockdown: कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए पूरा देश 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है। लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए तमाम राज्यों की पुलिस पूरी सख्ती बरत रहे हैं। सोशल मीडिया से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया तक पुलिस की सख्ती की फोटो और वीडियो खूब वायरल हो रही। इन सबके बीच दिल्ली से सटे गौतमबुद्धनगर जिले में पुलिस का मानवीय चेहरा भी सामने आ रहा है। नोएडा पुलिस ने भूख से बिलख रहे बच्चों और 82 लोगों की सूचना मिलने पर तुरंत उन तक राशन पहुंचाया। पुलिस के इस कदम की जमकर सराहना हो रही है।*✒️✒️

*दरअसल नोएडा पुलिस को डायल 112 पर सूचना मिली थी कि ग्रेटर नोएडा के तिलपता क्षेत्र में कुछ बच्चे और लगभग 82 लोगों को लॉकडाउन की वजह से खाना नहीं मिला है। बच्चे भूख से बिलख रहे हैं। ये वो परिवार हैं, जो रोज कमाते और रोज खाते हैं। जैसे ही इन लोगों के बारे में पुलिस अधिकारियों को पता चला, डॉयल 112 के इंस्पेक्टर पुलिसकर्मियों के साथ एक पीसीआर वैन में राशन लेकर उन तक पहुंच गए।*✒️✒️

   *पुलिस ने राशन की बाट जोह रहे लोगों को 50 किलो चावल और 25 किलो दाल उपलब्ध कराई। पुलिस द्वारा राशन पाकर लोगों के चेहरे खिल गए। नोएडा पुलिस द्वारा मदद का ये वीडियो ट्वीट करते ही, लोगों ने इसे जमकर सराहा। सोशल मीडिया पर पुलिस के इस कदम की काफी सराहना हो रही है।*

*सेक्टर 22 में महिला को दी थी दवा*

*नोएडा पुलिस द्वारा लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंदों की मदद करने का ये कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले मंगलवार को नोएडा के सेक्टर 22 स्थित चौड़ा गांव में रहने वाली एक बुजुर्ग महिला की पुलिस ने मदद की थी। 50 वर्षीय मधुमेह से पीड़ित महिला के घर में राशन नहीं बचा तो महिला के सामने खाना बनाने की भी समस्या आ खड़ी हुई। महिला को आसपास के लोगों से भी मदद की उम्मीद नहीं थी। जिसके बाद बिहार के गया में बैठे महिला के पति ने पुलिस कमिश्नर को मामले की सूचना दी। इसके बाद पुलिस कमिश्नर ने डीसीपी ट्रैफिक को निर्देश दिए। जिसके बाद ट्रैफिक पुलिस महिला के घर राशन और दवा लेकर पहुंची।*✒️✒️✒️✒️✒️