ALL Crime Politics Social Education Health
अयोध्या फैसलाः राम मंदिर निर्माण और भागवान की मूर्ति को लेकर ये डेट आई सामन
November 11, 2019 • Montoo raja

अयोध्या फैसलाः राम मंदिर निर्माण और भागवान की मूर्ति को लेकर ये डेट आई सामन


अयोध्या में लगने वाली भगवान श्रीराम की मूर्ति समेत अन्य परियोजनाओं की शुरुआत 2 अप्रैल, 2020 से होगी। वहीं अयोध्या के संपूर्ण विकास के लिए ब्रज तीर्थ विकास परिषद की तर्ज पर एक बोर्ड बनाया जाएगा। इस संबंध में पर्यटन विभाग ने काम शुरू कर दिया है।


अयोध्या के सुनियोजित विकास के लिए यहां एक बोर्ड बनाया जाएगा जो यहां के पर्यटन विकास के लिए पूरा मास्टर प्लान बनाएगा। अभी यहां केन्द्र सरकार की स्वदेश दर्शन योजना और राज्य सेक्टर की कई परियोजनाएं चल रही हैं। माना जा रहा है कि बोर्ड बनने के बाद योजनाओं को ज्यादा बेहतर तरीके से चलाया जा सकेगा। इसका स्वरूप ब्रज तीर्थ विकास परिषद की तरह होगा या इससे अलग, इस पर चर्चा शुरू हो गई है।
मूर्ति समेत अन्य योजनाओं का शिलान्यास 2 अप्रैल, 2020 को कराने की तैयारी

वहीं अयोध्या में लगाई जाने वाली भगवान श्रीराम की 251 फुट लम्बी मूर्ति समेत अन्य योजनाओं का शिलान्यास 2 अप्रैल, 2020 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से करवाने की तैयारी है। इसके डीपीआर पर काम शुरू हो चुका है। इस योजना के लिए अयोध्या में गांव मीरापुर दावा परगना हवेली तहसील सदर में 61 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण किया जा रहा है जिसके लिए नवम्बर के पहले हफ्ते में राज्य सरकार ने 447.46 करोड़ रुपए मंजूर किए हैं। इसके अलावा इस वर्ष की शुरुआत में भी 200 करोड़ रुपये इस योजना में मंजूर किये जा चुके हैं।


जितेन्द्र कुमार, प्रमुख सचिव, पर्यटन विभाग ने कहा कि अयोध्या में कई योजनाएं चल रही हैं। बोर्ड बनने के बाद सारी योजनाओं में एक सामंजस्य स्थापित हो सकेगा। वहीं कुशीनगर की मैत्रेय परियोजना के लिए जिस जमीन का अधिग्रहण हुआ था उसे अब हम बुद्ध सर्किट के तहत विकसित करेंगे।