ALL Crime Politics Social Education Health
अवैध शराब माफिया ने शराब मुहैया कराने के लिए लगवाया हैंडपंप, पानी की जगह निकलती है शराब
April 13, 2020 • Shadab Hasan • Crime

 

झांसी। कोरोना वायरस के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोंदी ने देशभर में 21 दिन के लाॅकडाउन का ऐलान किया था। जिसके बाद सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शराब की दुकानों पर तालेबंदी के साथ ही गुटखा पर प्रतिबंद लगा दिया। पर शराब माफियाओं ने सरकार के तालेबंदी का तोड़ निकाल लिया। झांसी स्थित जंगल में उन्होंने एक ऐसा हैंडपंप तैयार किया जो चलाने पर पानी के बजाय शराब उगल रहा था। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने हैंडपाप को उखाड़ा तो जमीन के नीचे ड्रमों में शराब निकली। पुलिस ने दो महिलाओं को गिरफ्तार किया है।

ठहरौली गांव का मामला
झांसी जनपद के ठहरौली गांव स्थित घने जंगल में शराब माहिफयाओं ने जमीन के नीचे ड्रमों में शराब छिपाकर रखी थी। उसके ऊपर हैंडपंप लगा दिया था। मौके पर दो महिलाओं को माफियाओं ने बैठा रखा था। इस दौरान शराबी हैंडपंप चलाते और गिलास में शराब निकाल कर पीते और पैसे देकर चले जाते। सटीक सूचना पर थाना प्रभारी डाक्टर आशीष मिश्रा फोर्स के साथ जंगल में पहुंचे और जेसीबी के जरिए हैंडपंप के नीचे जमीन की खुदाई कराई तो तो अवैध शराब से भरे ड्रम निकले।

निकाला तोड़
सख्ती के बावजूद शराब माफिया गैर कानूनी तरीके से अभी भी मुंहमांगी कीमत पर शराब को बेच रहे हैं। ग्रामीणों के मुताबिक प्रदेश सरकार के बंदी के बाद गांव में शराब का ठेका पिछले 20 दिनों सं बंद है। फिर भी पियक्कड़ों को शराब मिल रही थी। एक ग्रामीण के मुताबिक उसका बेटा घर पर रखे एक हजार रूपए पार कर ले गया। शाम के वक्त बेटा नशे में धुत जंगल में पड़ा मिला। हमें शक हुआ तो इसकी जानकारी पुलिस को दी। ग्रामीण ने बताया कि देशी शराब की खपत अब भी बड़े पैमाने पर ग्रामीण इलाकों में हो रही है।

दो महिलाओं को किया गिरफ्तार
थानाप्रभारी ने मीडिया को बताया कि पूरे जनपद में शराब बेचने पर रोक है। बावजूद कुछ लोग गैर कानूनी तरीके से शराब को बेंच रहे हैं। सूचना के आधार पर यहां से ड्रमों में शराब बरामद की गई है। पुलिस ने मौके से दो महिलाओं को पकड़ा है। साथ ही दो शराब माफियाओं की तलाश की जा रही है। थानाप्रभारी के मुताबिक जो भी शराब का अवैध कारोबार करता हुआ पाया जाएगा उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस लगातार ग्रामीण क्षेत्रों पर गस्त कर शराब माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाए हुए है।