ALL Crime Politics Social Education Health
आईपीएस रोबिन हिबू: दिल्ली पुलिस द्वारा 120 प्रवासी मजदूरों को दी गई शरण
April 16, 2020 • Montoo Raja • Social

समस्त देश में लॉक डाउन के चलते लोगों को बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। कोविड-19 के चलते लॉक डाउन में डॉक्टर, सफाई कर्मी, व पुलिसकर्मी अहम भूमिका निभाते नजर आ रहे हैं। कई राज्यों में यह देखा गया है की पुलिसकर्मियों ने जरूरतमंद लोगों को खाना मुहैया करवाया है। ऐसे ही लोग डाउन के समय में राजधानी दिल्ली की पुलिस भी पीछे नहीं है।

दिल्ली पुलिस में कार्यरत आईपीएस रोबिन हिबू यह वह नाम है जो असहयोग के लिए एक तरह के मसीहा हैं। खासतौर पर असहाय लोगों की मदद करते नजर आते हैं। खास करके नॉर्थईस्ट इंडिया के लोगों के लिए आउट ऑफ द वे जाकर कई कार्य किए हैं। जोकि काफी सराहनीय है।

लॉग डाउन की इन परिस्थितियों में प्रवासी मजदूरों के लिए मसीहा बने आईपीएस रॉबिन हिबू।
दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर आईपीएस रोबिन हिबू जो इस समय दिल्ली पुलिस की आर्म फोर्स में कार्यरत हैं। आईपीएस रोबिन हिबू के नेतृत्व में 120 प्रवासी मजदूरों के रहने व खाने का प्रबंध किया गया।

लॉक डाउन के चलते प्रवासी मजदूर दिल्ली में फस गए हैं जिनके पास ना तो अब कोई रहने की जगह है ना भूख मिटाने के लिए खाना। इस सबके चलते दिल्ली पुलिस 24 मार्च 2020 से 120 लोगों का राशन दिल्ली पुलिस अपने यूनिट से प्रबंध कर रही है।

दिन में दो वक्त का खाना और दिल्ली पुलिस ने आर्म फोर्स क्षेत्र के अंतर्गत मजदूरों के रहने का भी प्रबंध किया है। आईपीएस रोबिन हिबू के अनुसार 120 मजदूरों को रहने की जगह और खाने का प्रबंध करने के बाद लोगों के अंदर जो खुशी दिखती है। उनके चेहरे पर जो मुस्कान आती है, और आंखों में भाव दिखता है। उसके लिए कोई शब्द नहीं है वह देख के दिल को बहुत सुकून मिलता है।

दिल्ली में दिल्ली पुलिस फैन द्वारा दिल्ली की 6 दिशाओं में छह जगहों पर नॉर्थ ईस्ट के लोगों को राशन मुहैया कराया जा रहा है व जब तक स्थिति सामान्य नहीं हो जाती तब तक लोगों की मदद की जाने की कोशिश की जाएगी।